हैदराबाद गैंग रेप एंड मर्डर केस

हैदराबाद में निर्भया जैसा कांड, दुष्कर्म के बाद महिला डॉक्टर को जलाया, चार गिरफ्तार। तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में एक रोंगटे खड़े कर देने वाली घटना के बाद उसी इलाके में एक और महिला की अधजली लाश मिली है, जहां गुरुवार को पशु चिकित्सक युवती का शव मिला था। पशु चिकित्सक युवती शादनगर में रहती थी। यहां से करीब 30 किलोमीटर दूर साइबराबाद में एक पशु चिकित्सालय में कार्यरत थी।

महिला डॉक्टर का करियर

उन्हे जानवरो से बहोत लगाव था इसलीये वो एक पशु चिकित्सक बनी। वह हैदराबाद के शादनगर के पास कोल्लुरु गाँव के एक पशु चिकित्सालय में एक पशु चिकित्सक थी।

27 नवंबर 2019 की रात, 26 वर्षीय वेटनरी डॉक्टर की कुछ अज्ञात व्यक्तियों द्वारा बेरहमी से हत्या कर दी गई थी, जब वह कोल्लुरु गाँव के एक पशु चिकित्सालय में अपने घर लौट रही थी, जहाँ वह पिछले एक साल से काम कर रही थी।

पुलिस के अनुसार, वह बुधवार (27 नवंबर 2019) को लापता हो गई थी और एक अंडरपास के नीचे शादनगर से लगभग 30 किलोमीटर दूर गुरुवार (28 नवंबर 2019) सुबह अधजली लाश मिली।

पुलिस ने कहा कि महिला डॉक्टर शमशाबाद में फंसी हुई थीं, जब उनका स्कूटी पंक्चर हो गया था। उसकी बहन ने कहा कि पीड़‍िता ने 27 नवंबर 2019 की रात लगभग 9.15 बजे उसे फोन किया था। पीड़‍िता की बहन ने यह भी कहा कि फोन कॉल में, प्रियंका ने कहा था कि किसी ने उसके फ्लैट टायर की मरम्मत के लिए उसकी मदद की पेशकश की थी।

priyanka-reddy-bike
priyanka-reddy-bike

बहन ने बताया, फोन पर डरी हुई थी

पीड़‍िता की बहन ने पुलिस को यह भी बताया कि मेरी बहन ने उन्हें सूचित किया था कि वह डर रही थी। क्योंकि वह एक ऐसे स्थान पर फंसी हुई थी जहाँ बहुत सारे अनजान आदमी और ढेर सारे लदे ट्रक खड़े थे। पीड़‍िता की बहन ने पुलिस को बताया कि उसने अपनी बहन को पास के टोल गेट तक चलने और वहां इंतजार करने के लिए कहा था।

See also  सुनीता केजरीवाल का जीवन परिचय हिंदि मे - Sunita Kejriwal Biography in Hindi

पीड़‍िता की बहन ने कहा, मेरी बहन ने आखिरी बार उनसे रात 9.22 बजे बात की थी और उनका फोन रात करीब 9.44 बजे बंद हो गया था। कुछ समय के इंतजार के बाद, वे उसकी तलाश करने के लिए टोल-प्लाजा पहुंचे। बाद में, उन्होंने दुकानों पर, टोल प्लाजा पर और आसपास के क्षेत्रों में खोजबीन की, और फिर जब उन्होंने उसका पता नहीं लगाया तो पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।

27 साल की एक पढ़ी-लिखी डॉक्टर का वो हाल किया गया जिसे देखकर हर लड़की का मन अंदर तक सिहर उठे. सड़क के किनारे पड़े और कोयला बन चुके शरीर की तस्वीर शायद ही आंखों से जल्दी ओझल हो सकेगी. इस तस्वीर ने लड़कियों के हौसलों को पस्त कर दिया है. बेटियों को अकेले शहरों में छोड़ने वाले माता-पिता के माथे पर चिंता की लकीरें और गहरा गई हैं.

28 नवंबर 2019 की सुबह  स्थानीय लोगों द्वारा पीड़‍िता के बुरी तरह से जले हुए शरीर को शमशाबाद के बाहरी इलाके में एक खुले इलाके में पाया गया, जिन्होंने फिर पुलिस को सूचित किया। परिवार के सदस्यों, जिन्होंने तब पहले से ही पुलिस शिकायत दर्ज की थी, तब उन्हें उस जगह पर आने के लिए कहा गया था जहां पीड़‍िता का शव मिला था। उन्होंने उसे पहने हुए लॉकेट की मदद से उसकी पहचान की। पुलिस को आसपास से शराब की बोतलें भी मिलीं।  शव को पोस्टमार्टम के बाद उसके परिजनों को सौंप दिया गया।

See also  दिशा पटानी का जीवन परिचय हिंदि मे - Disha Patani Biography in Hindi

हैदराबाद पुलिस ने इस मामले में चार को गिरफ्तार किया है। वहीं राष्ट्रीय महिला आयोग ने जांच समिति गठित की। हिरासत में लिए गए लोगों में एक ट्रक ड्राइवर और एक क्लीनर शामिल हैं।

dr-priyanka-reddy-murder-rape-case-accused
dr-priyanka-reddy-murder-rape-case-accused

इनके नाम हैं- मोहम्मद आरिफ, जोल्लु शिवा, जोल्लु नवीन और चिंताकुंता।

Source :- bhaskar.com, navbharattimes

Leave a Comment